योग और संगीत


योग का संगीत से गहरा रिश्ता है. आँख बंद करके आनंद से भक्ति संगीत सुनकर आप बहुत आसानी से योग साध सकतें हैं. योग के जितने भी साधन हैं,(यम नियम आसन प्राणायाम आदि) उनमें से मैं तो संगीत को सबसे सरल व प्रभावी साधन मानता हूँ.
धार्मिक संगीत एक बार आप के ब्राउज़र-  इन्टरनेट एक्स्प्लोरर, गूगल क्रोम, फायरफॉक्स या अन्य नवीनतम संस्करण में डाउनलोड होने के बाद आप चाहे जितनी बार सुन सकतें हो, जब तक एचटीएमएल5 सामर्थित ब्राउज़र बंद नहीं किया जाये.
यह आपकी कंप्यूटर मेमोरी में हस्तक्षेप नहीं करेगा, अर्थात आप चाहे जितना संगीत सुन सकते हो. दूसरी बात इसको डाउनलोड करने के लिए समय व डाटा बहुत कम लगता है. साधारणतया 2जी नेटवर्क पर लगातार संगीत सुन सकते हो.
 नोट- यह एक पूर्णतया धार्मिक कार्य है. इसमें किसी का भी व्यक्तिगत हित (आर्थिक या लौकिक) निहित नहीं है. जो भी भजन डाले गए हैं, वे भगवान की इच्छा व कृपा से डाले गए हैं. आप सबका सहयोग अति आवश्यक है.
 

1.राम रतन

Skip Navigation Links